Category Archives: baglamukhi utkeelan mantra

Baglamukhi Mantra Utkilan Vidhaan बगलामुखी मंत्र वृहत् उत्कीलन विधान

Baglamukhi Mantra Utkilan Vidhaan (बगलामुखी मंत्र वृहत् उत्कीलन विधान)
मंत्रों का दुरुपयोग रोकने के लिए कलियुग के प्रारम्भ में भगवान शिव ने सभी मंत्रों का कीलन (शापित) कर दिया था। तब माँ पार्वती के अनुग्रह करने पर उन्होंने मंत्रों को उत्कीलित करने का विधान भी प्रस्तुत किया ताकि सत्पात्र एवं अधिकारी साधक भी मंत्र की सिद्धि प्राप्त कर सकें। यही मंत्रोंत्कीलन-विधान मंत्र-उपासना के अंग के रूप में उत्कीलक कहे जाते हैं। इसलिए साधक को कवच आदि का पाठ करने से पूर्व उत्कीलन करना चाहिए।
For Mantra Diksha & Sadhana Guidance email us – sumitgirdharwal@yahoo.com or call us on 9410030994, 9540674788. For more information visit http://www.baglamukhi.info

Read the rest of this entry

Advertisements